Wednesday, December 1, 2010

एक साईट सोचने पर मजबूर करती

मुझे पूरा विश्वास है कि आपको सोचने पर मजबूर होना पड़ेगा यंहा आकर.........
हमारा हर बात कों लेकर नकारात्मक रवैया क्या ठीक है........?
क्या ये अपनी जिम्मेदारियों से मुह मोड़ने जैसा नहीं है...........?
http://theuglyindian.com

20 comments:

mridula pradhan said...

bilkul theek kahi aapne.hamen apne ko badalna hoga.

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

आपका बताया ब्लॉग देखा ....एक अच्छे नागरिक बनाने के लिए पूरी ज़िम्मेदारी निभानी चाहिए ...
देश तभी सुन्दर बन सकता है जब सबका सहयोग हो ..

मंजुला said...

हम सब अपने आस पास के छोटे छोटे हिसे की जिमेदारी ले ले तो बहुत कुछ अच्छा कर सकते हैं ......आपको सलाम ...

'उदय' said...

... nice link !!!

प्रवीण पाण्डेय said...

अच्छा लिंक, कभी न कभी तो यह सब पूछना ही पड़ेगा, स्वयं से।

इमरान अंसारी said...

सही इशारा किया है आपने....तुम बदलोगे य...युग बदलेगा...तुम सुधरोगे...युग सुधरेगा...

sangeeta said...

This is such a big urban menace ... thanks for the link.
It can be printed out and posters should be pasted on places i think.
I have been tagged as an eccentric for stopping people from doing all this ... nobody seems to bother about it.

Bhushan said...

इसे देख कर ज़िम्मेदार नागरिकों को और गंभीरता से कार्य करना होगा. अपनी आदतों को बदलना बहुत बड़ी जीत होती है.

Shekhar Suman said...

बस एक पंक्ति कहनी है..
हम बदलेंगे, देश बदलेगा...
ब्लॉग शेयर करने के लिए शुक्रिया ...

मुट्ठी भर आसमान...

रचना दीक्षित said...

सही लिंक दिया है आभार

मनोज कुमार said...

बहुत अच्छी जानकारी और लिंक दिया है आपने। आभार।

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

इन प्रशनों के उत्तरों के लिए मन में झांकना जरूरी हैं ... हर भारतीय के लिए....

sada said...

बेहतरीन जानकारी के लिये आभार ।

Sawai Singh Rajpurohit said...

नमस्कार जी !

ये तो एकदम नयी,रोचक और अच्छी जानकारी के लिए धन्यवाद ! मुझे लगता है की आप आगे भी ऎसी
जानकारी से अवगत कराएँ ...शुक्रिया आपका .....

Kunwar Kusumesh said...

व्याप्त सारी गड़बड़ियों के सभी किसी न किसी रूप में ज़िम्मेदार हैं

अशोक मिश्र said...

बिलकुल ठीक काहा आपने ....
देश तभी सुन्दर बन सकता है जब सबका सहयोग सृजनात्मक हो ............

शोभना चौरे said...

hme khud hi kuch kadm uthane honge .
agr is vishy me koi kriyashil kadm ythaye ya koi sathk upay bataye to jyda achha ho .aaj hr shahr ki yahi smsya hai .

shabdshringaar said...

Ma'm,i want that you please read my blog once a time and comment.then,i'll write my next post.
At http://shabdshringaar.blogspot.com

प्रेम सरोवर said...

रोचक जानकारी के लिए धन्यवाद।

shekhar suman said...

मेरा नया बसेरा.......