Thursday, June 11, 2009

प्रयास

मेरी छोटी बिटिया का है आया मेल

मम्मा कठिन शव्दों से कर रही हो आप खेल ।

लगता है जैसे ले रही हो हिन्दी का टेस्ट

इंगलिश में पोस्ट करोगी तो ही होगा बेस्ट ।


पढ़ने-लिखने का उसको

है बेहद ही चाव ।

कोशिश जरूर करेगी वो जब

फरमाइश को नही मिलेगा कोई भाव ।


हिन्दी ना छूटे मेरे बच्चो से

एक माँ का है ये प्रयास ।

सफल रहूंगी मकसद में

इसकी है मुझे पूरी आस ।

3 comments:

Shipra said...

प्रिय मोम

आप्की ये कविता हमें आई बड़ी पसंद
आगे से कृप्या लिखये ऐसे he चँद
जिनके शब्द न हो अधिक कठन
लगे हमें मन ही मन
कि हिंदी के साथ हमारा यह सुनहरा बंधन
नहीं हुआ अभी ख़तम

मंजली

Dr.Ashok said...

Hum chahte to hain hindi main likhna, lekin mujhe abhi fonts doodhne padenge.
Hindi ek pyaari bhasha
swaad iska jaise goonga muh me rakkhe gud aur kare ijhaar karne ki abhilasha.

Swatantra said...

Mast hai aapka blog!! Koi tarekaa batayiee comment hindi mein likhne ka...